0
loading...
शहर के रानीपुरा में एक पटाखा दुकान में लगी आग ने आस-पास की दुकानों को भी अपनी चपेट में ले लिया। हादसे में एक व्यक्ति जिंदा जल गया जबकि 6 लोग 90 प्रतिशत से ज्यादा झुलस गए। घायलों को इलाज के लिए एमवाय अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। बाजार में सकरी गली होने की वजह से यहां फायर ब्रिगेड को पहुंचने में भी काफी मशक्कत का सामना करना पड़ा, जिसके बाद आग पर काबू पाने की कोशिश शुरू हो सकी।

शहर के सबसे व्यस्त बाजार में हुई घटना के बाद बड़ी संख्या में लोगों की भीड़ यहां जमा हो गई थी। कमिश्निर संजय दुबे, कलेक्टर पी नरहरि, डीआईजी हरिनारायणचारी मिश्रा घटना का जायजा लेने रानीपुरा पहुंचे। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अधिकारियों से फोन पर हादसे की जानकारी ली। डीआईजी ने बताया कि आग की चपेट में आकर एक व्यक्ति की मौत हो गई जबकि 6 लोग जलाकर गंभीर रूप से घायल हैं।

हादसे में में झुलसे 5 लोगों के नाम, एक घायल की पहचान नहीं हो सकी

- करण पिता धन्नालाल (39) निवासी हातोद

- केतन पिता करण (18) निवासी सदर बाजार

- राजाराम पिता दिनेश (21) निवासी रामनगर

- सुदशर्न पिता मुन्नालाल (24) निवासी जबरन कॉलोनी

- सुरेश पिता बालकृष्ण शर्मा (42) निवासी लोधीपुरा

फैलती गई आग

जानकारी के मुताबिक पटाखे की दुकान से फैली आग ने आस-पास की जूते-चप्पलों की दुकान को भी अपनी चपेट में ले लिया। जूते-चप्पलों के जलने से विषैला धुंआ उठने लगा। इमारत में ऊपर फंस लोगों को किसी तरह बाहर निकाला गया। धुंए से इमारत में फंसे लोगों का दम घुटने लगा।

वे घबराकर जान बचाने की गुहार लगाते रहे। उधर आस-पास मौजूद दुकानों के व्यापारियों को इस बात का डर सता रहा था कि कहीं आग उनकी दुकान को भी अपनी चपेट में न ले ले। पटाखा दुकान के अंदर से लगातार बमों के फटने की आवाज आती रही। आग से दुकानों के बाहर खड़े 25 से ज्यादा वाहन भी जलकर खाक हो गए।
...

Post a Comment

 
Top